डाउनलोड मुद्रण

अ+ अ-

कविता

बच्चों का अखबार
फहीम अहमद


अपने हाथों से लिख-लिख कर
बच्चों ने अखबार निकाला।

खबर छपी, राजू के पापा
ने उसको बेमतलब डाँटा।
शन्नो की चाची ने उसको
गुस्से में कल मारा चाँटा।

टूट गया काका का चश्मा
रवि ने जब फुटबाल उछाला।

मुन्नू पाता दूध मलाई
मुनिया को बस मिलती टाफी।
रसगुल्लों की चोरी करके
सोनू जी माँगी माफी।

पिंजड़ा खुला देख उड़ भागा
माँ ने था जो तोता पाला।

टीचर से पाई शाबासी
रामू के छोटे भैया ने।
तीन बाल्टी दूध दिया है
कल्लू की भूरी गैया ने।

चार पदक पाकर राहुल ने
कर डाला है काम निराला।


End Text   End Text    End Text