डाउनलोड मुद्रण

अ+   अ-

कविता

NON EST
अनसतासिस विस्तोनतिस

अनुवाद - रति सक्सेना


सुनसान सड़कें, पितलाए क्षितिज
खाली कुर्सियाँ और उसके पदचिह्न
एक गुप्त बुखार शहर खा रहा है
छितराई रोशनी, फीका रक्त
उसने अपनी जेब में अपनी उँगलियाँ चटखाईं
अपने दिमाग को वाष्पित होते देखा
गच्च मगज, सुलगने को तैयार
एक घायल दिन, वह हौले से फुसफुसाता है
पदचिह्न, फिर पदचिह्न, गली से दूर तक
पदचिह्न दूर पदचिह्नों से...

NON EST - the returning of a sheriff's writ when the person to be arrested or served with it cannot be found in the sheriff's jurisdiction.

 


End Text   End Text    End Text

हिंदी समय में अनसतासिस विस्तोनतिस की रचनाएँ