डाउनलोड मुद्रण

अ+ अ-

लेख

रोबोटिक्स अभियांत्रिकी
डॉ. भारत खुशालानी


रोबोटिक्स, अभियांत्रिकी की एक शाखा है, जिसमें रोबोट की अवधारणा, प्रारूप, निर्माण और संचालन शामिल है। रोबोटिक्स का क्षेत्र, परमाणुकी, कंप्यूटर विज्ञान, कृत्रिम बुद्धि, यांत्रिकाणुकी, अतिसूक्ष्म तकनीकी और जीवअभियांत्रिकी का मिश्रण है।

रोबोटिक्स अभियंता, एक विशेष प्रकार का अभियंता होता है। उसे स्वयंचालित अभियंता भी कहा जाता है। स्वयंचालन से मानव श्रमिकों की जगह यंत्र ले लेते हैं। रोबोटिक्स अभियंता मंच के पीछे रहकर अपनी कृति को प्रारूप देता है। पीछे रहकर वह रोबोट और रोबोटिक प्रणालियाँ बनाने के लिए जिम्मेदार होता है। ये प्रणालियाँ उन कार्यों और कर्तव्यों को पूरा करने में सक्षम होती हैं जिन्हें करने में इनसान या तो असमर्थ होते हैं या जिन्हें वे करना नहीं चाहते। अपनी रचनाओं के माध्यम से, एक रोबोटिक्स अभियंता, विशेष रूप से विनिर्माण उद्योग में, नौकरियों को सुरक्षित, आसान और अधिक कुशल बनाने में मदद करता है।

जो विद्यार्थी रोबोटिक्स अभियांत्रिकी करना चाहते हैं, उनकी विद्यालयों और कनिष्ठ महाविद्यालयों में विज्ञान और गणित में मजबूत पृष्ठभूमि होनी चाहिए। रोबोटिक्स अभियांत्रिकी में स्नातक और स्नातकोत्तर दोनों स्तरों पर पढ़ाई होती है। रोबोटिक्स में न केवल स्वयंचालन विधि शामिल होती है, बल्कि रोबोट द्वारा संवेदन और अनुभूति की जटिल प्रक्रियाओं की जानकारी होती है। हालाँकि संवेदन और अनुभूति नए विषय नहीं हैं, इनमें ज्यादा तरक्की नहीं हो पाई है। इसका कारण यह है की ये जटिल विषय हैं जिनमें उन्नत स्तर का गणित, उच्च कोटि की विनिर्माण पद्धति, सूक्ष्म स्तर पर परमाणुकी की जानकारी चाहिए होती है। इसीलिए रोबोटिक्स एक ऐसा क्षेत्र है जिसमें रोबोट बनाने के लिए पूरी टीम लगती है। इस टीम के हर सदस्य को अलग अलग प्रकार की जानकारी होने पर भी उसका ठीक तरीके से समन्वय एक समस्या ही बनी रहती है।

किसी भी अच्छे रोबोटिक्स पाठ्यक्रम में कणगतिका, कृत्रिम बुद्धि, नमूना प्रारूप, यंत्रसीख, यंत्रदृष्टि, जीवयांत्रिकी, गतियोजना, संकर प्रणाली और नियंत्रण प्रणाली का समावेश रहता है। इसके अलावा, एक अच्छी प्रयोगशाला भी रहना जरूरी है जिसमें सिद्धांतों का व्यावहारिक ज्ञान मिल सके। कई बार बड़ी कंपनियाँ ऐसी प्रयोगशालाओं में निवेश करती हैं। फिर जो विद्यार्थी इन प्रयोगशालाओं में प्रशिक्षण प्राप्त करते हैं, ये कंपनियाँ उन्हें अपने यहाँ नौकरियाँ दे देती हैं।

अधिकांश रोबोटिक्स अभियंताओं को प्रयोगशालाओं, अंतरिक्ष अन्वेषण, विनिर्माण संयंत्र, खनन और संगठनों में रोजगार प्राप्त होता है। अधिकांश रोबोटिक्स अभियंताओं को निजी रोबोट निर्माताओं या रोबोट उपयोगकर्ताओं द्वारा नियोजित किया जाता है। रोबोटिक्स अभियंता जो रोबोट निर्माताओं के लिए काम करते हैं उन्हें कभी-कभी रोबोटिक्स परीक्षा अभियंता या स्वचालन प्रणाली अभियंता कहा जाता है।

भारत और साथ ही साथ विदेशों में रोबोटिक्स अभियंताओं के लिए इस क्षेत्र में पर्याप्त अवसर हैं। जो रोबोटिक्स पेशेवर इस क्षेत्र में प्रवेश करते हैं, उनके लिए रोबोटिक्स अभियांत्रिकी का भविष्य निश्चित रूप से कई अवसर प्रदान करता है। सैन्य, चिकित्सा और मोटर वाहन उद्योगों के लिए प्रायोगिक रोबोटिक्स में शोधकार्य के लिए भी प्रचुर मात्र में अवसर हैं। विनिर्माण उद्योगों में तो समानुक्रम रोबोट कई दशकों से उच्च गुणवत्ता वाले उत्पादों का निर्माण कर रहे हैं।


End Text   End Text    End Text

हिंदी समय में डॉ. भारत खुशालानी की रचनाएँ