hindisamay head
डाउनलोड मुद्रण

अ+ अ-

कविता

छिंउकी
मोती बी ए


1.

सेमर फुलाये
फर लागे
ठोरियावऽ सुगना


2.

छितिर-बितिर पानी
तराइल ऊँट
बेंग, का ताकेलऽ?!


3.

हर-फार-हेंगा-जुआठ
उठऽ-उठऽ-
काठ बलमू


4.

भीत भहराए
छान्‍ही चुए
लइका सुताईं कहाँ !


5.

जाँते में झींकि
लिलारे पसेना
आजु रोटी मिली


6.

पानी छितराए
अरार टूटे
मन डूबे-डूबे


7.

का हम खियाईं
आपन माँसु?
मुँआ द हमके!


8.

ना खर ना पलानी
चान काटे चानी
भैने का माँगेलऽ?

 


End Text   End Text    End Text

हिंदी समय में मोती बी ए की रचनाएँ