hindisamay head
डाउनलोड मुद्रण

अ+ अ-

कविता

कितना कठिन
अभिमन्यु अनत


तुम्हारा यह दावा कि
तुम देश की उन्नति के लिए
सबसे कठिन कार्य कर रहे हो
मेरी नजरों में कोई अर्थ नहीं रखता
उन्नति-अवनति को छोड़ो
मेरी तरह नौकरी की तलाश में लगकर
फिर बताओ, कौन काम कितना कठिन है !

 


End Text   End Text    End Text

हिंदी समय में अभिमन्यु अनत की रचनाएँ